images (15)

क्यों जरुरी होता है मैरिज बायोडाटा?

शादी एक ऐसा महत्वपूर्ण फैसला है जिसमे हर एक चीज का बखूबी का ध्यान रखा जाता है। रिश्ता देखने से लेकर रिश्ता तय करने तक में कई चीजों का ध्यान रखा जाता है। ऐसे में मैरिज बायोडाटा सबसे पहली चीज है जिससे लड़की और लड़के के बारे में जानकारी मिलती है। मैरिज बायोडाटा एक ऐसा डॉक्यूमेंट है जिसमे उस इंसान की पूरी प्रोफाइल होती है जो अरेंज्ड मैरिज करना चाहता है।                                                                                                                                                                                               मैरिज बायोडाटा में व्यक्ति के नाम, उम्र, लिंग, गढ़, उंचाई, रंग, प्रोफेशन, एजुकेशन और फॅमिली डिटेल्स होती है जिससे उस व्यक्ति के बारे में सब कुछ पता चलता है। एक अच्छी तरह से लिखा गया बायोडाटा शादी के लिए सबसे अच्छा प्रस्ताव माना जाता है और प्रभावी भी होता है।                                                                                                                                                                             कई लोगों को आज भी पता नहीं है की सही से अच्छा मैरिज बायोडाटा कैसे बनाते है और कई लोगों तो यह भी नहीं जानते की शादी के लिए मैरिज बायोडाटा क्यों जरुरी होता है। आज की इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे की आखिर शादी के लिए मैरिज बायोडाटा क्यों जरुरी है और एक अच्छे बायोडाटा में किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

शादी के लिए क्यों जरुरी होता है मैरिज बायोडाटा

मान लो आप कहीं शादी के रिश्ते की बात चला रहे है तो जाहिर सी बात है सीधा आप उनके घर तो जायेंगे नहीं और ना ही वे आपके घर आयेंगे। इसके अलावा फ़ोन पर भी वे आपके बारे में सारी बातें नहीं जान सकते। ऐसे में मैरिज बायोडाटा ही एक मात्र ऐसा साधन है जो आपके बारे में सारी जानकारी सामने वाले को प्रोवाइड कराएगा जिससे बात आगे बढ़ेगी।                  मैरिज बायोडाटा से उन्हें आपके बारे में सारी जानकारी मिल जाएगी और बाद में अगर उन्हें लगा की बात करनी चाहिए तो वो आपको मिलने के लिए बुलाएँगे और अगर सामने वालों को नहीं जचा तो वे नहीं बुलाएँगे। यह एक ऐसा डॉक्यूमेंट है जो कम शब्दों में ही सही लेकिन सामने वाले व्यक्ति के सामने आपका चरित्र बयाँ कर देता है।

एक अच्छे मैरिज बायोडाटा में क्या-क्या जानकारी होनी चाहिए?

  • नाम, पिता का नाम, माता का नाम।
  • जाति।
  • उंचाई, वजन।
  • शौक।
  • विवाह की स्थिति जैसे तलाकशुदा, विधवा, अविवाहित आदि।
  • एजुकेशन डिटेल्स।
  • जन्म स्थान, समय, जन्म दिनांक। इसकी जरुर इसलिए पड़ती है क्योंकि अगर सामने वाला कुंडली मिलाना चाहेगा तो उस आसानी होगी। हालाँकि कई परिवारों में कुंडली को नहीं मानते लेकिन हिन्दू रीती में कई परिवार ऐसे भी है जो सुखद भविष्य के लिए शादी से पहले कुंडली मिलाते है।
  • आपके परिवार का विवरण जैसे भाइयों, बहनों आदि की डिटेल्स।
  • बिज़नस या नौकरी के बारे में।
  • सम्पर्क डिटेल्स (पता और मोबाइल नंबर)
  • एक अच्छा सा मुस्कुराता हुआ फोटो।                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                                            आज की इस पोस्ट में आप अच्छे से समझ गए होंगे की मैरिज बायोडाटा शादी के लिए क्यों जरूरी है और एक अच्छे मैरिज बायोडाटा में किन-किन चीजों को शामिल किया जाता है। उम्मीद करता हु की आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी और अगर आपको यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर करे और कमेंट बॉक्स में अपने विचार दे।
Previous Post
remedies-for-wedding-jpg_1200x900xt
Hindi

मनचाहा वर पाने के उपाय

Next Post
images (13)
Hindi

बायोडाटा और सीवी में क्या अंतर है?

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *