unique-fun-idea-for-bridal-entry-family-dancing-shonan-adesh-thedelhibride-indian-wedding-blog

Rajsthani shadi ke gane

[vc_row][vc_column][vc_column_text]शादी विवाह के अवसर पर गाना गाने की परम्परा हमारे देश की संस्कृति का अभिन्न अंग है। जिनमे से राजस्थानी गाने आजकल ज्यादा प्रचलित है। इन राजस्थानी गानो के बिना शादी, विवाह का अवसर अधूरा सा लगता है। ऐसे अनेक राजस्थानी गाने प्रचलित हैं, जिन्हें  विवाह के अवसर पर गाया जाता है। परिवार की महिलाएं ढोलक-मजीरे की ताल पर सामूहिक रुप से इन गानो को गाती, बजाती हैं। अक्सर इन गानो की धुन पर महिलाएं डांस भी करती हैं। इनमें से कुछ राजस्थानी गाने इस तरह है-[/vc_column_text][vc_column_text]

  1. मेहंदी बाट सिलावटां जी रंग बाट्या रंग आय।
    मेहंदी द्यो न जी, बहू राणा दे रे हाथ। मेहंदी राचणी।
    मेहंदी द्यो न जी, बहू सावतरी रे हाथ। मेंहदी राचणी।
    मेंहदी द्यो न जी, बहू चान्दणदे रे हाथ। मेहंदी राचणी।
  2. कजली बन में असल चालाक, हाथी दांत जी,
    ल्याओ ने कसाब जी का छावा चुड़लो। जयपुर रो हीरा भरियो चुड़लो।
  3. चून्दरी बहू राणादे ने बजाज हो ल्याओ ने कासब जी रा चावा चून्दड़ीजी।
    फिरिया फिरिया गौरी देश विदेश हो,
    कठै न ल्यादी, बाला चून्दड़ी जी।
  4. बोई बोई सुहागों की क्यारियां
    तेरी दादी ने बो दई क्यारियां
    तेरे दादा सींचे लोटे झारियां
    बोई बोई सुहागों की क्यारियां।
  5. पहलो फेरो लाड़ी, दादा, ताऊजी री प्यारी।
    दूजो तो फेरो लाड़ी, पापा, चाचीजी री प्यारी।
    तीसरा तो फेरो लाड़ी, भैया, मामाजी री प्यारी।
    चौथा तो फेरो लाड़ी, जीजा, फूफाजी री प्यारी।
  6. म्हारा आंगण जावतरी रो रुख म्हारा पिवजी, सनजारे आंगण एलची जी,
    पाकण लाग्यो, जावतरी रो रूख म्हारा पिवजी, महकण लागी एलची।
  7. लाड़ी री दादी दाल दलो न उड़दा की,
    लाड़ी री अम्मा दाल दलो न उड़दा की,
    थे उड़द मूंग सा दलल्यो, सुहाग कामण कर ल्यो।
  8. घोड़ी रा उर खुर राचणां जी, घोड़ी कहां से मंगाई।
    घोड़ी म्हारे दादाजी रे देश, घोड़ी वहां से मंगाई।
    घोड़ी म्हारा नानाजी रे देश, घोड़ी वहां से मंगाई।
    चढ़ चढ़ ओ बन्ना लाड़ला, पाछै सब भाई।
  9. कजल्यो सारले ये सूरजजी री नार कजल्यो सारले।
    खातीला जोवे थारी बाट कजल्यो सारले।
    कजल्यो सारले ये घर ये… री नार कजल्यो सारले।
  10. बना हसती तो ल्याज्यो जी, बना घुड़ला तो थे ल्याजो जी,
    बना ल्याजो ल्याजो कलमी आम म्हार घर आज्यो जी।
    बनी काईं हठ लाग्याजी, नाजू काईं हठ लाग्याजी।
    म्हार नहीं छ आंबा रो रोजगार, काईं हठ लाग्याजी।
  11. सवाग राज बिड़ला जी ल्याया
    पहलो सवाग म्हारा माऊजी रो होइज्यो
    दूसरो सवाग सिरदार बनी रो होइज्यो
    सवाग राज बिड़ला जी ल्याया।
  12. दादासा सणगारी घोड़ी बाबा सा सणगारी
    दाद्या न हिलमिल गाई घोड़ी घूम घोड़ी चढ़ो सईजादा।
    बींद मांगे बीनणी, जानेती मांगे बाजा।
  13. अँखियों में छोटे-छोटे सपने सजाइके
    बहियों में निंदिया के पंख लगाइके
    चँदा में झूले मेरी बिटिया रानी
    चाँदनी रे झूम, हो, चाँदनी रे झूम।
  14. बन्नी के मुखड़े की छवि प्यारी बन्नी लगे सबसे न्यारी 
    बन्नी का मेहंदी रचा हाथ बन्नी म्हाने प्यारी लगे
    बन्नी की हिरानी जीसी चाल घनी मतवाली लागे।
  15. बन्नी को मुखड़ो घनो सोहवनो रूप जाने सावनरिया री झुत
    बन्नी तो परिया की महारानी रूप की रानी लागे।
  16.  पल्लो लटके म्हारो पल्लो लटके,
    जरा सा टेढो हो जो बालमा,पल्लो लटके
  17. बन्ना का नाना रसीला रे बन्ना के ल्याया रेलगाड़ी 
    यो तो पटरिया पे नही चाले रे हवा में चाले रेलगाड़ी
    बनना का दादा रसीला रे बनना के ल्याया काजल घोड़ी 
    यो तो रोड पे नही चाले रे हवा में चाले काजल घोड़ी।
  18. बाबेरे दरबार में बाजे डीजे धमा धम
    धमा धम डीजे धमा धम
    डीजे वाला बाबू बजा दे डीजे बजा दे धमा धम
    धमा धम डीजे धमा धम।
  19. अरे राय रा को राज डीजे घनो ज़ोर बाजे
    बाबे रे भंडारे माही नाचेला
    डीजे वाले बाबू थोड़ा गाना बजा दे
    रूनिचा रा मेला माही नाचेला।
  20. के दासिया जाओ नि म्हारा लाल बन्ना ने दोई आओ नी
    छोरिया जाओ नी म्हारा लाल बन्ना ने लेर आओ नी
    (रखड़ी देदू नथडी देदू टिलडी देदूजी
    हार गला रो थाने देदू झुमका देदू जी) 
    दासिया जाओ नी म्हारा लाल बन्ना ने लेर आओ नी।

[/vc_column_text][/vc_column][/vc_row]

[amazon box="B07CQ8FL7V,B07K5YRWDS,B077T6BJ7G,B077Q6ML95" grid="3"]
Previous Post
wedding card design
Hindi शादी के कार्ड

2023 ke best Wedding Card Design, Invitation Card Design, शादी कार्ड डिजाइन

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!